प्रेस विज्ञप्ति: बसेड़ा में बिखरी सतरंगी छटा

प्रेस विज्ञप्ति बसेड़ा में बिखरी सतरंगी छटा   चित्रकारों की कूंची से बसेड़ा हुआ सराबोर   आर्ट केम्प ने मन मोहा बसेड़ा(...

सोमवार, 25 दिसंबर 2017

हिंदी में अपनापन बसता है-रमेश शर्मा

प्रेस विज्ञप्ति
हिंदी में अपनापन बसता है-रमेश शर्मा
हिंदी हमारी राष्ट्रीय सम्पर्क भाषा है-महेंद्र प्रताप गर्ग 
बसेड़ा में हुई हिंदी दिवस केन्द्रित कई प्रतियोगिताएं

बसेड़ा(छोटी सादड़ी) 14 सितम्बर, 2017
हिंदी एक ऐसी भाषा है जिसमें हमें अपनापन अनुभव होता है। एक इंसान को जीवन में जितना संभव हो अधिकाधिक भाषाएँ सीखनी चाहिए और खासकर अपनी शुरुआती शिक्षा तो मातृभाषा में ही लेनी चाहिए। आजकल अभिभावकों में अंगरेजी स्कूल और अंगरेजी भाषा को लेकर अभिजात्य होने का भाव महसूसा गया है मगर असल में बच्चे गलतफहमी के शिकार होकर न हिंदी के रह पाते हैं न अंगरेजी के बन पाते हैं। अंगरेजी रोज़गार की भाषा है मगर हिंदी हमारी अपनी भाषा है जिसमें हिंदुस्तानियत की खुशबू आती है। हिंदी को तरज़ीह इसलिए दी जानी चाहिए क्योंकि यह हमारी राजभाषा भाषा है इसे आदर देने का यह अर्थ कतई नहीं है कि हम अंगरेजी से नफरत करें

यह विचार बसेड़ा हिंदी क्लब द्वारा छोटी सादड़ी स्थित राजकीय आदर्श उच्च माध्यमिक विद्यालय बसेड़ा में हिंदी दिवस के आयोजन में बतौर अतिथि अज़ीम प्रेमजी फाउंडेशन के रमेश शर्मा ने व्यक्त किए। कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए प्रधानाचार्य महेंद्र प्रताप गर्ग ने कहा कि बीते दो दशक में हिंदी का बहुत तेज़ी से विकास हुआ है और आज हिंदी हमारे देश की राष्ट्रीय सम्पर्क भाषा के रूप में पहचान बन चुकी है। आज के इंटरनेट प्रधान युग में तमाम सोसियल नेटवर्किंग साईट और पोर्टल लगातार हिंदी में अपनी सेवाएं विकसित कर रहे हैं। हिंदी का बाज़ार बड़ी तेज़ी से विस्तार ले रहा है। अगर हम ठीक से जानकारी लें तो पाएंगे कि आज विश्वभर में हिंदी के बूते कई नए रोज़गार भी संभव हो पा रहे हैं। 

अज़ीम प्रेमजी फाउन्डेशन की प्रतापगढ़ इकाई के साथी विष्णु शर्मा और चित्तौड़गढ़ इकाए के रमेश शर्मा के निर्देशन में बसेड़ा हिंदी क्लब के इस आयोजन में शुरुआत सवेरे संगीतमयी प्रार्थना सत्र के साथ हुई जिसमें सर्वेश्वर दयाल सक्सेना की प्रसिद्द कविता इब्नबतूता का पाठ हुआ। बाद में प्राथमिक कक्षाओं के लिए राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार प्राप्त फिल्म छुटकन की महाभारत की स्क्रीनिंग की गयी। उच्च माध्यमिक कक्षाओं के लिए कहानी पूरी करो और हिंदी के माध्यम से करिअर जैसे विषय पर संवाद सम्पन्न हुए। दोपहर बाद विद्यार्थियों ने हिंदी के लोकप्रिय रचनाकारों और प्रसिद्द रचनाओं पर केन्द्रित पोस्टर प्रदर्शनी लगाई जिसे सभी ने बहुत सराहा। स्कूल के लिए इस तरह का यह पहला आयोजन था। समारोहपूर्वक हुई प्रस्तुतियों में वरिष्ठ अध्यापक भैरू लाल मीणा और सांस्कृतिक आयोजन प्रभारी जगदीश सेंगर ने सभा को संबोधित किया सम्पन्न विभिन्न प्रतियोगिताओं में पोस्टर बनाओ स्पर्धा में प्रथम ममता मीणा, द्वितीय अर्जुन मेघवाल, तृतीय स्थान पर सुनीता मेघवाल और टमा नाई रही। विभिन्न समसामयिक मुद्दों पर आशु भाषण में पहले तीन स्थान पर क्रमश दीपक ढोली, ममता आंजना, गुणवंत मेघवाल रहे वहीं स्वरचित कविता और पुस्तक समीक्षा में पहले तीन स्थान पर कृष्णा मीणा, कोमल आंजना, बबली धोबी और अर्जुन मेघवाल रहे। आखिर में सभी को अतिथियों ने पारितोषिक दिए। सञ्चालन बसेड़ा हिंदी क्लब संयोजक माणिक ने किया

माणिक
संयोजक,बसेड़ा हिंदी क्लब

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

यह ब्लॉग खोजें

Follow by Email